शब्द-भारती

अनुवाद पाठ्यक्रम


भारत सरकार से मान्यता प्राप्त एकवर्षीय वाक्‌सेतु स्नातकोत्तर अनुवाद (अंग्रेजी-हिन्दी-अंग्रेजी) डिप्लोमा पाठ्यक्रम

शब्द-भारती (हिन्दी संसाधन केन्द्र) अनुवाद और हिन्दी विषयक अनेक गतिविधियों और आयामों के प्रति निरंतर कार्यरत तथा समर्पित एक ऐसी संस्था है जो वर्ष 2003 से पूरी निष्ठा के साथ अपनी सक्रिय भूमिका निभा रही है । भाषाओं के अनेक मर्मज्ञ विद्वानों, प्राध्यापकों, शोधार्थियों तथा अनुवादसेवियों के सहयोग से शब्द-भारती ‘अनुवाद भारती’ वार्षिक पत्रिका का नियमित प्रकाशन, अनुवाद विषयक मासिक एवं वार्षिक गोष्ठियों तथा कार्याशालाओं का निरंतर आयोजन, अनुवाद विषयक विभिन्न प्रकाशन तथा अनुवादकों को सम्मानित एवं पुरस्कृत करने जैसे अनेक महत्वपूर्ण कार्यों के साथ-साथ एकवर्षीय वाक्‌सेतु स्नातकोत्तर अनुवाद (अंग्रेजी-हिंदी-अंग्रेजी) डिप्लोमा पाठयक्रम भी सफलतापूर्वक चला रही है। गर्व का विषय है कि रोजगारोन्मुख तथा व्यवहारमूलक इस पाठयक्रम की उपादेयता एवं स्वतसिद्घ प्रासंगिकता के कारण ही भारत सरकार ने इसे सरकारी नौकरियों के लिए मान्यता प्रदान की है । उल्लेखनीय है कि संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त अनेक अनुवादक देश के कोने-कोने में सरकारी तथा गैर सरकारी संस्थानों में कार्यरत हैं। इस पाठयक्रम की निरंतर बढ़ती लोकप्रियता का परिणाम है कि अब इस पाठयक्रम की शाखाएँ पूर्वोत्तर राज्यों के अनेक स्थानों, जैसे- अरूणाचल प्रदेश, नागालैण्ड, दुलियाजान और तेजपुर में भी आरंभ कीए जा रहे हैं। भविष्य में भी पाठयक्रम की शाखाएँ खोली जानी हैं। इस बहुआयामी, उपयोगी तथा रोजगारमूलक सार्थक पाठयक्रम के उद्देश्य इस प्रकार हैं -

पाठयक्रम के उद्देश्य

1.

अनुवाद के विविध क्षेत्रों में रोजगार के लिए प्रशिक्षण देना,

 

 

2.

सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी के युग में अनुवाद की उपादेयता का बोध कराना,

 

 

3.

अनुवाद प्रक्रिया का प्रयोग सीखाना

 

 

4.

भूमंडलीकरण के युग में अनुवाद की रचनात्मक भूमिका स्पष्ट करना,

 

 

5.

कार्यालयीन अनुवाद का व्यावहारिक प्रशिक्षण देना,

 

 

6.

बैंक, बीमा, संसद, विधि, विज्ञापन तथा कंप्यूटर आदि विशिष्ट क्षेत्रों में अनुवाद का प्रशिक्षण देना,

 

 

7,

तत्काल भाषान्तरण, दुभाषिए संबंधी प्रशिक्षण प्रदान करना,

 

 

8.

प्रिंट तथा इलैक्ट्रॉनिक मीडिया में अनुवाद के स्वरूप तथा पत्रकारिता से परिचित कराना,

 

 

9.

प्रयोजनमूलक हिंदी, कोशविज्ञान तथा पारिभाषिक शब्दावली में दक्षता प्रदान कराना

 

 

10.

अनुवाद के सैद्धांतिक ज्ञान के साथसाथ उसके विविध आयामों, अनुशासनों से व्यावहारिक बोध कराना, तथा

 

 

11.

हिन्‍दीतर क्षेत्रों में हिन्‍दी के प्रचारप्रसार को मौलिक तथा अनूदित रूप में गति प्रदान करना

प्रवेश पात्रता

1.

किसी भी मान्यताप्राप्त  विश्‍वविद्यालय की स्नातक उपाधि ।

 

 

2.

स्नातक स्तर पर अंग्रेज़ी तथा हिन्‍दी भाषा का ज्ञान एवं निपुणता ।

प्रवेश पद्धति

1.

पाठ्यक्रम के लिए योग्य विद्यार्थियों का चयन परीक्षा/साक्षात्‍कार के आधार पर किया जाएगा।

 

 

2.

पाठयक्रम विवरणिका तथा आवेदन पत्र शब्द-भारती  के कार्यालय से किसी भी कार्यदिवस में प्रात: 10.00 से सायं 5.30 बजे के बीच 100/- रुपए नकद अथवा 200/- रुपए का मनीआर्डर/डी.डी. भेजकर प्राप्त किए जा सकते हैं ।

 

 

3.

आवेदन पत्र प्रतिवर्ष 5 जुलाई से प्राप्त किए जा सकते हैं तथा चार नवीनतम पासपोर्ट आकार के रंगीन फोटो एवं प्रमाण-पत्रों की अनुप्रमाणित प्रतिलिपियाँ आवेदन-पत्र के साथ भेजना/जमा करना अनिवार्य है ।

महत्वपूर्ण सूचनाएँ

 1.

विद्यार्थी को परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए पूर्णांक ( 700 अंक) में से समग्रत: कम से कम 40 प्रतिशत अंक अवश्य प्राप्त करने होंगे।

 

 

 2.

प्रत्येक विद्यार्थी के लिए कक्षा में 75 प्रतिशत उपस्थिति अनिवार्य है अन्यथा अर्ध वार्षिक एवं वार्षिक परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

 

 

3.

प्रतिवर्ष, जनवरी माह से अर्धवार्षिक परीक्षा होगी जिसमें 100-100 अंक के कुल दो प्रश्नपत्र होंगे । पाठयक्रम के प्रथम एवं –द्वितीय प्रश्नपत्र पर आधारित एक प्रश्नपत्र  होगा तथा प्रश्नपत्र तीन एवं चार पर आधारित दूसरा प्रश्नपत्र होगा। अर्धवार्षिक परीक्षा के लिए कुल 50 अंक निर्धारित हैं। 200 अंकों  के इन दो प्रश्नपत्रों में विद्यार्थी के प्राप्तांकों का प्रतिशत निकाल कर कुल 50 अंक में से प्राप्तांक वार्षिक परीक्षा परिणाम में जोड़े जाएँगे।

 

 

4.

लिखित परीक्षा के पश्चात्‌ मौखिक परीक्षा सभी विद्यार्थियों को अनिवार्यत: देनी होगी, जिसके लिए कुल 50  अंक निर्धारित हैं। इस मौखिक परीक्षा में वर्ष भर का आतंरिक मूल्यांकन भी शामिल रहेगा ।

वार्षिक शुल्क विवरण (सत्र 2017-18 के लिए)

प्रवेश शुल्क

रु. 5,000/-

प्रशिक्षण शुल्क

रु. 10,000/-

कुल पाठयक्रम शुल्क

रु. 15,000/-

पुरस्कार

शब्दभारती वार्षिक परीक्षा में विशिष्ट योग्यता प्राप्त करनेवाले विद्यार्थियों को पुरस्कार प्रदान करती है। 

पाठयक्रम में प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को तथा प्रत्येक प्रश्नपत्र में अधिकतम अंक प्राप्त करनेवाले सात विद्यार्थियों को ये पुरस्कार कोश, शब्दावली आदि महत्वपूर्ण पुस्तकों  पुरस्‍कार के रूप में दिए जाते हैं।

महत्वपूर्ण तिथियाँ

1.

आवेदन पत्र प्राप्त करने की तिथि

जून, प्रथम/द्वितीय सप्ताह

2.

आवेदन पत्र जमा कराने की तिथि

जून, अंतिम सप्ताह

3.

प्रवेश परीक्षा/साक्षात्‍कार

जुलाई, प्रथम सप्ताह

4.

प्रवेश प्राप्त विद्यार्थियों की चयनसूची का प्रकाशन

जुलाई, प्रथम सप्ताह

5.

प्रवेश शुल्क एवं अन्य शुल्क जमा कराने की अंतिम तिथि

जुलाई, द्वितीय सप्ताह

6.

सत्र प्रारंभ

जुलाई, तृतीय सप्ताह से

7.

परियोजना कार्य निर्धारण/आवंटन

सितबंर अंतिम सप्ताह

8.

अर्द्घवार्षिक परीक्षा

जनवरी के दूसरे सप्ताह में

9

परियोजना कार्य जमा करने की अंतिम तिथि

31 जनवरी

10.

रुपए 100/- प्रतिदिन विलंब शुल्क के साथ जमा करने की अंतिम तिथि         

28 फरवरी

11.

शैक्षिक सत्रावसान

20 मार्च

12.

वार्षिक लिखित एवं मौखिक परीक्षा

मार्च का तृतीय-चतुर्थ सप्ताह

13.

परीक्षापरिणाम घोषणा

मई माह

14.

दीक्षांत समारोह

अक्‍तूबर—नवंबर माह

विशेष सुविधाएँ

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय ख्याति के अनुवाद विशेषज्ञों के विशिष्ट व्याख्यान,

अनुवाद विषयक मासिक गोष्ठियों संगोष्ठियों का नियमित आयोजन,

राष्ट्रीय/अंतर्राष्ट्रीय वार्षिक संगोष्ठियों का आयोजन,

प्रतिष्ठित अनुवादकों, अनुवादविदों से संवाद तथा परिचय,

अनुवाद विषयक समृद्ध, अधुनातन एवं अद्यतन पुस्तकालय की व्यवस्था,

अनुवाद विषयक दो अथवा तीन दिवसीय कार्यशाला,

अनुवाद विषयक वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन,

अनुवाद विषयक शोधपत्र वाचन का आयोजन,

अनुवाद विषयक डिप्लोमा वितरण (दीक्षांत समारोह) का आयोजन,

अनुवाद विषयक राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कार/सम्मान समारोह का आयोज

अनुवाद विषयक अन्य शैक्षिक सांस्कृतिक गतिविधियों का नियमित आयोजन

परीक्षा विवरण

प्रश्‍नपत्र

अंक

परीक्षा का समय

1.

अनुवाद का व्याकरण

100

3 घंटे

2.

भाषा और अनुवाद का समाजशास्त्र

100

3 घंटे

3.

जनसंचार माध्यम और अनुवाद

100

3 घंटे

4.

पारिभाषिक शब्दावली, कोश विज्ञान और अनुवाद

100

3 घंटे

5.

अनुवाद का व्यावहारिक परिप्रेक्ष्‍य

100

3 घंटे

6.

मूल्यांकन : परियोजना कार्य एवं सत्र परीक्षा

100

3 घंटे

1. परियोजना कार्य - 

निबंध (15 पृष्ठों का अनुवाद विषयक)  20 अंक

व्यवहारिक अनुवाद               50 अंक

(30 पृष्ठों का अंग्रेजी से हिन्‍दी अथवा हिन्‍दीसे अंग्रेजी में अनुवाद)

 

अथवा

अनुवाद विषयक लघु शोध प्रबंध (50 पृष्ठों का) 70 अंक

 

2. सत्र परीक्षा (वर्ष में एक बार) 30 अंक ( दिसंबर में)

7.

 अर्धवार्षिक परीक्षा एवं मौखिक परीक्षा

100

3 घंटे

 

1. अर्धवार्षिक परीक्षा   50 अंक

2. मौखिक परीक्षा    50 अंक   

 

 


© 2021 शब्द-भारती, All rights reserved.